कल शाम से पाकिस्तानी सेना LoC पर गोलीबारी कर रही है. भारतीय सेना ने जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तानी रेंजर्स की पांच चौकियों को गंभीर नुकसान पहुंचाया

पाकिस्तान के बालकोट में आतंकियों के कैंप पर भारत के एयर स्ट्राइक से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है. पाकिस्तानी सेना कल शाम से LoC पर गोलीबारी कर रही है. भारतीय सेना ने जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तानी रेंजर्स की पांच चौकियों को गंभीर नुकसान पहुंचाया है.

Smach aaj tak, श्रीनगर: पुलवामा आतंकी हमले का जवाब मिलने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है और वह लगातार नियंत्रण रेखा (LoC) पर गोलीबारी कर रहा है. पाकिस्तानी रेंजर्स सुबह से बारामूला के कमलकोट उरी, पुंछ, राजौरी, अखनूर समेत 12 से 15 जगहों पर भारी हथियारों से गोलीबारी कर रहे हैं. कुछ इलाकों में कल शाम को गोलीबारी शुरू हुई थी।

उन्होंने कहा कि शाम साढे छह बजे के बाद पाकिस्तानी सेना ने हताशा के कारण नियंत्रण रेखा पर भारी हथियारों से गोलाबारी करके बिना उकसावे वाला संघर्षविराम उल्लंघन किया. पाकिस्तानी सैनिकों को ग्रामीणों को मानव कवच के रूप में इस्तेमाल करते हुए आम नागरिकों के घरों से मोर्टार और मिसाइलें दागते हुए भी देखा गया।

पाकिस्तानी गोलीबारी की वजह से लोगों में डर का माहौल है. स्थानीय लोग रातभर खौफ में समय काटे. एक ने कहा कि हम घरों से भाग रहे हैं, बच्चे डरे हैं. काफी देर से गोलीबारी हो रही है. हम छिपने की जगह खोज रहे हैं.

 

सेना के पीआरओ ने कहा कि हालांकि, भारतीय सेना ने आम नागरिकों की बस्तियों से अलग पाकिस्तानी चौकियों को निशाना बनाया. इसके कारण ‘बड़ी संख्या में’ पाकिस्तानी सैनिक हताहत हुए. दोनों तरफ से गोलीबारी में भारतीय सेना के पांच सैनिकों को मामूली चोटें आई हैं. इनमें से दो को इलाज के लिए सेना के अस्पताल ले जाया गया है. उनकी स्थिति स्थिर है.

भारतीय सेना भी पाकिस्तानी रेंजर्स के हरकतों का मुंहतोड़ जवाब दे रही है. एक रक्षा अधिकारी के मुताबिक, भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में पांच पाकिस्तानी रेंजर्स की चौकियों को गंभीर नुकसान पहुंचा है. और (राजौरी और पुंछ जिलों में नियंत्रण रेखा से लगे क्षेत्र में) पाकिस्तानी सेना के कई जवान हताहत हुए हैं।

आपको बता दें कि भारत ने मंगलवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े शिविर को तबाह कर दिया जिसमें लगभग 350 आतंकवादी और उनके प्रशिक्षक मारे गए. पाकिस्तान ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद इन आतंकवादियों को उनकी सुरक्षा के लिए इस शिविर में भेजा था.

 

विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा कि शिविर बालाकोट में स्थित था, लेकिन उन्होंने इसके बारे में कोई ब्योरा नहीं दिया. सूत्रों ने कहा कि संदर्भ पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत स्थित शहर का था जो नियंत्रण रेखा से करीब 80 किलोमीटर दूर और ऐबटाबाद के नजदीक स्थित है जहां अमेरिकी बलों ने अलकायदा के सरगना ओसामा बिन लादेन को ढेर किया था.

Click short

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *