एक ना चली एमएलए परगट की,  कलगीधर की रिहायशी जगह पर चार अवैध दुकानों का डाल दिया रातो रात लेंटर, हफ्ता पहले इंस्पेक्टर पूजा मान ने चिपकाया था नोटिस, 

एक ना चली एमएलए परगट की,  कलगीधर की रिहायशी जगह पर चार अवैध दुकानों का डाल दिया रातो रात लेंटर, हफ्ता पहले इंस्पेक्टर पूजा मान ने चिपकाया था नोटिस,

समाचार आज तक,Jaalandhar अमिता शर्मा,

अब चंडीगढ़ पहुंचेगा मामला,  सील होने की तैयारी शुरु

कई बार शिकायत देने के बाद भी एटीपी विकास दुआ के इलाके में बन गई अवैध बिल्डिंग,

रिहायशी इलाकों में नहीं बनने देंगे कमर्शियल बिल्डिंग: इलाका वासी

समाचार आज तक

अवैध बिल्डिंग में रगड़ा, रिहायश की जगह बना दी कमर्शियल बिल्डिंग!
समाचार आज तक, जालंधर कैंट

66 फीट रोड पर अवैध निर्माणों के मामले में नगर निगम प्रशासन की भूमिका संदेह के घेरे में है।  बीते कुछ महीनोंंं में अवैध निर्माणों का नया खेल शुरु किया है। जिसमें हर दूसरी बिल्डिंग को परमिशन की आढ़ में  नगर निगम को धोखा दिया जा रहा है।मामला क्यूरो मॉल के सामने न्यू कलगीधर एवेन्यू में चल रहे अवैध निर्माणों के मामले में नगर निगम प्रशासन की भूमिका संदेह के घेरे में है। बता दें कि यह निर्माण इतनी तेजी से करवाया गया है कि कि 1 हफ्ते में चार अवैध बिल्डिंगों का लेंटर तैयार कर दिया गया है पिछले हफ्ते नगर निगम की इस इलाके की इंस्पेक्टर पूजा मानने इस बिल्डिंग पर नोटिस भी चिपकाया था। इन दुकानों को लेकर 66 फुट रोड पर काफी चर्चा है। सूत्रों की माने तो एमएलए परगट ने मेयर जगदीश राजा को भी इस दुकानों का लेंटर रुकवाने के लिए फोन भी किया था जिसके चलते अगले दिन ही इंस्पेक्टर पूजा मान ने इन अवैध दुकानों पर नोटिस का दिया था।

एक ना चली एमएलए परगट की,  कलगीधर की रिहायशी जगह पर चार अवैध दुकानों का डाल दिया रातो रात लेंटर, हफ्ता पहले इंस्पेक्टर पूजा मान ने चिपकाया था नोटिस, की थी कार्रवाई

नोटिस चिपकाने के बाद बिल्डिंग का मालिक सतर्क हो गया और बिल्डिंग के मास्टर प्लान की धज्जियां उड़ाते हुए आगे से थोड़ी दीवार कर के , जाली तरीके से एक विंडो तैयार करके बिल्डिंग पर लेंटर डाल दिया गयाा । अगर एटीपी विकास दुआ, एमटीपी परमपाल, और एसटीपी मेहरबान आकर इस बिल्डिंग की जांच करें तो नगर निगम को बहुत बड़ा घाटा होने से बचाया जा सकता है।

failed-mla-pargat-four-illegal-shops-were-put-up-at-the-residence-of-kalgidhar-night-a-week-ago-inspector-pooja-mann-had-posted-the-notice also

दूसरी ओर इलाके के लोग भी बिल्डिंग को लेकर बड़े चिंतित हैं यह इलाका रिहायशी है और यहां पर कमर्शियल काम लगातार फल फल रहा है। कम रेट में प्लाट मिल जाता है जिससे यहां पर दुकान बनाने आसान हो जाती है। और जिसका खामियाजा ना इलाका वासियों को भुगतना पढ़ रहा है। निकलने के लिए छोटी सी गली है जहां पर एक गाड़ी बड़ी मुश्किल से जा पाती है और यहां पर चार अवैध दुकानें बना दी गई जिसको लेकर इलाका वासी राहुल, रिंकू, तरसेम इत्यादि ने नगर निगम कमिश्नर से गुहार लगाई है कि इन दुकानों पर जल्द ही कार्रवाई की जाए ताकि इस इलाके को कमर्शियल होने से बचाया जा सके।

Click short

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *