जालंधर के कई इलाकों  में लॉटरी का काम जोरों पर चल रहा है , सेटिंग के चलते काफी दुकानें फिर से खुली 

समाचारआजतक, ब्यूरो,:

जालंधर मेन पुलिस प्रशासन पूरी तरह से कर लिया था शहर की हर दुकान बंद करा दी गई थी, लेकिन कुछ ही दिनों का खेल था। फिर से लॉटरी की दुकान खुल गई हैं और लोगों के जेबों में डाका मारना शुरू हो गया है जहां एक और करोना ने पूरे सिटी को अपनी चपेट में ले लिया है 500 से 600 मरीज का आंकड़ा पार करता जा रहा है वहीं दूसरी ओर लॉटरी माफिया अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे लोगों की जेबों में डाका डालने का काम जोरों पर शुरू कर दिया गया है।

Near dua senetery areas of Jalandhar, lottery work is going on in full swing, due to the setting, many shops reopened.

जालंधर के कई इलाकों  में लॉटरी का काम जोरों पजालंधर के कई इलाकों  में लॉटरी का काम जोरों पर चल रहा है , सेटिंग के चलते काफी दुकानें फिर से  खुल गई हैं  । सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मीठापुर road दुआ सेनेटरी के पास में किसी ने लॉटरी की दुकान खोली है । इस धंधे में अपने आप को दिग्गज कहलाने वाले वह भी अपना धंधा समेट कर बैठे हुए हैं ।  खुलेआम पर्चियां लिखी जा रही है  जिन दुकानदारों ने लॉटरी की दुकानें खोली है उन्होंने अभी पहली किस्त 10,000 रुपए ही जमा करवाए हैं इस इलाके में अभी 2 के करीब ही दुकानें खुली है।

एक दुकान का खर्चा करीब एक लाख रुपया महीने तक पहुंच जाता है सेटिंग की फीस ₹30000 रुपए दुकान का कराया ₹5000 के करीब 3 दुकानों पर काम करने वाले लड़कों का खर्चा 45,000 रुपए बिजली का बिल चाय ठंडे का बिल यह सभी खर्चे मिलाकर एक दुकान का खर्चा एक लाख तक पहुंच ही जाता है अब इस धंधे में इतनी कमाई भी नहीं है कैसे बचेगा सट्टे का धंधा करने वाला सट्टे का धंधा करने के लिए क्या चाहिए एक टेबल एक कॉपी एक पेन और एक दुकान अब कई सट्टा माफिया के लोग कंप्यूटर भी नहीं लगा रहे हैं।

आगे जल्द खुलासा होगा कि महानगर में कौन कौन से इलाके में किस-किस सट्टा माफिया ने कितनी कितनी दुकानें खोल रखी है और हर हल्के से जुड़ा हुआ खुलासा भी जल्द किया जाएगा।

मच्छी बाजार

Lambda थाने के अंदर बिजली घर के सामने दुकाने

खुर्ला किंग्रा

इत्यादि कई इलाके का खुलासा किया जाएगा।

 

Click short

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *