अयोध्या का सुप्रीम कोर्ट का फैसला, राम भूमि पर ही मंदिर बनेगा

विवादित ढांचे की ज़मीन हिन्दुओं को, मस्जिद के लिए मिलेगी दूसरी जगह

Smacharaajtak, New Delhi:

134 साल पुराने अयोध्या मंदिर-मस्जिद विवाद पर शनिवार को सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुआई वाली पांच सदस्यीय संविधान पीठ ने सर्वसम्मति से यह फैसला सुनाया। इसके तहत अयोध्या की 2.77 एकड़ की पूरी विवादित राम मंदिर निर्माण के लिए दे दी। शीर्ष अदालत ने कहा कि मंदिर निर्माण के लिए 3 महीने में ट्रस्ट बने और इसकी योजना तैयार की जाए। चीफ जस्टिस ने मस्जिद बनाने के लिए मुस्लिम पक्ष को 5 एकड़ वैकल्पिक जमीन दिए जाने का फैसला सुनाया, जो कि विवादित जमीन की करीब दोगुना है। चीफ जस्टिस ने कहा कि ढहाया गया ढांचा ही भगवान राम का जन्मस्थान है और हिंदुओं की यह आस्था निर्विवादित है।

Ayodhya Case Verdict Live Updates: विवादित ढांचे की ज़मीन हिन्दुओं को, मस्जिद के लिए मिलेगी दूसरी जगह
Click short

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *